रन आउट से शुरू होकर रन आउट पर ही खत्म हुआ धोनी का करियर

Dhoni's career starts from run out and ends at run out Image Source : GETTY

नई दिल्ली| अपनी कप्तानी में भारत को दो बार विश्व क्रिकेट का ताज दिलाने वाले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शनिवार को बेहद साधारण अंदाज में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह दिया। धोनी के साथ हालांकि एक अजीब इत्तेफाक जुड़ा है। वह अपने करियर के पहले मैच में भी रन आउट हुए और अंतिम मैच में भी। धोनी ने 23 दिसंबर 2004 को चटगांव में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच से अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर की शुरूआत की थी और अपने पहले मैच में पहली ही गेंद पर ही वह रन आउट हो गए थे। इस करीबी मुकाबले में भारत को 11 रन से जीत मिली थी।

इत्तेफाक से धोनी अपने करियर के आखिरी मैच में भी रन आउट हुए। विश्व कप 2019 में न्यूजीलैंड के खिलाफ सेमीफाइनल मैच में भी धोनी रन आउट हुए। मार्टिन गप्टिल के थ्रो ने धोनी को रन आउट कर भारत की विश्व कप जीतने की उम्मीदों पर पानी फेर दिया था और इस मैच में भारत को हार का सामना करना पड़ा। यह मैच धोनी के करियर का अंतिम अंतर्राष्ट्रीय मैच साबित हुआ। इसके ठीक एक साल बाद उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय किकेट को अलविदा कह दिया।

जूनियर क्रिकेट से बिहार क्रिकेट टीम, झारखंड क्रिकेट टीम से इंडिया ए टीम तक और वहां से भारतीय टीम तक का धोनी का सफर महज पांच-छह साल में पूरा हो गया।

धोनी की कप्तानी में भारत ने आईसीसी टी-20 विश्व कप (2007), क्रिकेट विश्व कप (2011) और आईसीसी चैम्पियंस ट्रॉफी (2013) का खिताब जीता। इसके अलावा भारत 2009 में पहली बार टेस्ट में नंबर एक बना था। दिसंबर 2014 में धोनी ने टेस्ट क्रिकेट से अचानक संन्यास की घोषणा कर दी थी।

धोनी ने साल 2017 की शुरूआत में ही वनडे और टी20 कप्तानी को भी उसी अंदाज में अलविदा कहा, जिसके लिए वो जाने जाते हैं और इसके तीन साल बाद उन्होंने अपने पुराने अंदाज में ही अंतर्राष्ट्रीय से संन्यास लेने की घोषणा कर दी।

दिसंबर 2005 में चेन्नई में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट करियर की शुरूआत करने वाले धोनी ने भारत के लिए 90 टेस्ट मैचों की 144 पारियों में 38.09 की औसत से 4876 रन बनाए।टेस्ट में उनके नाम छह शतक और 33 अर्धशतक दर्ज है और उनका सर्वोच्च स्कोर 224 है। वहीं, 23 दिसंबर 2004 को चटगांव में बांग्लादेश के खिलाफ वनडे मैच में पदार्पण करने वाले धोनी ने 350 वनडे मैचों की 297 पारियों में 50.57 की औसत से 10773 रन बनाए हैं। इसमें उनके नाम 10 शतक और 73 अर्धशतक दर्ज हैं। वनडे में उनका सर्वोच्च स्कोर नाबाद 183 हैं।

दुनिया के सबसे सर्वश्रेष्ठ फिनिशर माने जाने वाले धोनी ने एक दिसंबर 2006 को जोहान्सबर्ग में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टी 20 करियर की शुरूआत की थी। उन्होंने 98 टी 20 मैचों में 37.60 की औसत से 1617 रन बनाए हैं। इसमें उनके नाम दो अर्धशतक हैं। उनका सर्वोच्च स्कोर 56 हैं।



from India TV Hindi: sports Feed https://ift.tt/3iDB9ii
https://ift.tt/311ccaE via IFTTT
Previous Post Next Post